श्याम मुरली तो बजने आओ shyam murli to bajane aao roothi radha ko manane aao

श्याम मुरली तो बजाने आओ, रूठी राधा को मनाने आओ । ढूँढती है तुझे ब्रज की बाला, रास मधुबन में रचाने आओ । राह तकते हैं यह गवाले कब से, फिर से माखन को चुराने आओ । इंद्र फिर कोप कर रहा बृज पर, नख पर गिरिवर को उठाने आओ । अपने ‘शर्मा’ को फिर […]

Continue reading


कौन सुनेगा किसको सुनाऊं किसलिये चुप बैठे हो kaun sunega kisko sunaun kisliye chup baithe ho

कौन सुनेगा किसको सुनाऊं, किसलिये चुप बैठे हो छोड़ तुझे मैं किस दर जाऊ, किसलिए चुप बैठे हो मेरी हालत देख जरा तू, आँख उठा कर के बाबा, मैं तो तेरी शरण पड़ा हूँ, क्यों तू मुझको बिसराता । मेरी खता क्या, इतना बता दो, किसलिए चुप बैठे हो… क्या मैं इतना जान लूं मुझको […]

Continue reading


ना जाने कौन से गुण पर दयानिधि रीझ जाते हैं Na Jane Kaun Se Gun Par Dayanidhi Reejh Jaate Hain

ना जाने कौन से गुण पर, दयानिधि रीझ जाते हैं । यही सद् ग्रंथ कहते हैं, यही हरि भक्त गाते हैं ॥ नहीं स्वीकार करते हैं, निमंत्रण नृप सुयोधन का । विदुर के घर पहुँचकर भोग छिलकों का लगाते हैं ॥ न आये मधुपुरी से गोपियों की दु:ख व्यथा सुनकर। द्रुपदजा की दशा पर, द्वारका […]

Continue reading


उठ कर ले भजन भगवान का Uth Karle Bhajan Bhagwan Ka

उठ कर ले भजन भगवान का, तेरे जीवन का तो यही सार है बिना बंदगी भजन भगवान के, तेरा जीवन यूं ही बेकार है उठ कर ले भजन भगवान का… जन्म मिला तुझे अनमोल हीरा, माटी में क्यों खो दिया, जिस मार्ग से जाना तुझे था, उसी में काँटों को बो दिया । यह न […]

Continue reading


मेरी करुणामयी सरकार मिला दो ठाकुर से इक बार meri karunamayi sarkar mila do thakur se ik bar kripa karo bhanu dulari

मेरी करुणामयी सरकार, मिला दो ठाकुर से इक बार कृपा करो भानु दुलारी, श्री राधे बरसाने वाली गोलोक के ठाकुर प्यारे, तीन लोक के ठाकुर प्यारे, तेरे लिए ब्रज धाम पधारे । के कृष्ण लीला की सार, मिला दो ठाकुर से इक बार कृपा करो… तू ही मोहन तू ही राधा, तुझ बिन मोहन आधा […]

Continue reading


मेरी करुणामयी सरकार पता नहीं क्या दे दे meri karunamayi sarkar pata nahi kya de de

मेरी करुणामयी सरकार पता नहीं क्या दे दे क्या दे दे भई, क्या दे दे जग से आशा छोड़ दे भैया, श्यामा से आशा जोड़ ले भैया । तेरे भर देगी भण्डार, पता नहीं क्या दे दे ॥ मांगे से तुम क्या पाओगे, बिन मांगे सब पा जाओगे ॥ यह सच्ची साहूकार, पता नहीं क्या […]

Continue reading


संकटमोचन हनुमानाष्टक Hanuman Ashtak

गोस्वामी तुलसीदास कृत संकटमोचन हनुमानाष्टक बाल समय रबि भक्षि लियो तब, तीनहुँ लोक भयो अँधियारो । ताहि सों त्रास भयो जग को, यह संकट काहु सों जात न टारो ॥ देवन आन करि बिनती तब, छाँड़ि दियो रबि कष्ट निवारो । को नहिं जानत है जग में कपि, संकटमोचन नाम तिहारो ॥ 1 ॥ बालि […]

Continue reading


कृष्णा गोविन्द गोपाल गाते चलो Krishna Govind Gopal Gaate Chalo

कृष्णा गोविन्द गोपाल गाते चलो अपनी मुक्ति का साधन बनाते चलो कृष्णा गोविन्द गोपाल गाते चलो अपनी मुक्ति का साधन बनाते चलो दुःख में तड़पो नहीं, सुख में फूलो नहीं, प्राण जाये मगर, नाम भूलो नहीं । मुरली वाले को मन में रिझाते चलो कृष्णा गोविन्द गोपाल गाते चलो ॥ काम करते चलो, नाम जपते […]

Continue reading


वाह वाह रे मौज फकीरां दी wah wah re mauj faqira di

वाह वाह रे मौज फकीरां दी वाह वाह रे मौज फकीरां दी कदी ता खांदे चना चबेला कदी लपका लैंदे खीरा दी कदी ता रहंदे रंग महल विच्च कदी सौंदे गली अहीरां दी कदी ता ओढ़न शाल दुशाले कदी गुदड़ी फटीयां लीरां दी जंगला विच्च कदे तुरदे फिरदे कदी तुल नदी दे तीरां दी कदी […]

Continue reading


शिव पूजा में मन लीन रहे मेरा मस्तक हो और द्वार तेरा || Shiv Pooja Mai Man Leen Rahe Mera Mastak Ho Aur Dwar Tera

शिव पूजा में मन लीन रहे मेरा मस्तक हो और द्वार तेरा, मिट जाए जन्मों की तृष्णा मिले भोले शंकर प्यार तेरा । शिव पूजा में मन लीन रहे मेरा मस्तक हो और द्वार तेरा, मिट जाए जन्मों की तृष्णा मिले भोले शंकर प्यार तेरा । तुझ में खोकर जीना है मुझे मैं बूंद हूँ […]

Continue reading